इकोनॉमिक्स लेसन प्लान | Economics Lesson Plan in Hindi on Consumer Behaviour

इकोनॉमिक्स लेसन प्लान | Economics Lesson Plan in Hindi on Consumer Behaviour

इकोनॉमिक्स लेसन प्लान on Consumer Behaviour in Hindi ( उपभोगता का व्यवहार पाठ योजना ) free download pdf

Upbhokta Ka Vyavhar Lesson Plan In Hindi : उपभोक्ता का व्यवहार | Economics Lesson Plan in Hindi on Consumer Behaviour for B.Ed / DELED

उपभोक्ता का व्यवहार - जो वस्तुओं और सेवाओं का उपभोग करता है उसे उपभोक्ता कहते हैं | उपभोक्ता के व्यवहार का अध्ययन करना बहुत महत्वपूर्ण है, क्योंकि इससे बाजारियों को समझने में मदद मिलती है कि उपभोक्ताओं के खरीद के फैसले क्या प्रभावित करते हैं |

उपभोक्ता द्वारा यह समझ लिया जाता है कि किसी उत्पाद पर कैसे निर्णय लेते हैं | वह मार्केट में अंतर करना सीख जाते हैं और उन उत्पादों की पहचान कर लेते हैं | जिनकी आवश्यकता है और जिनकी नहीं उपभोक्ता व्यवहार उपभोक्ताओं का अध्ययन है और वह प्रक्रिया जिसमें विज्ञान चुनते हैं और क्या उपयोग करते हैं उत्पादों और सेवाओं का निपटान करते हैं जिसमें उपभोक्ताओं की भावनात्मक मानसिक व्यवहारिक प्रतिक्रियाएं शामिल  है उपभोक्ता व्यवहार के बारे में जानना भी दिखता को यह तय करने में मदद करता है कि अपने उत्पादों को किस तरह से दिखाया जाए जिससे उपभोक्ता पर अधिक प्रभाव पड़े और उत्पाद खरीद ले उपभोक्ता खरीद व्यवहार को समझना आपके लिए बहुत जरूरी है क्योंकि यहां पर ग्राहकों तक पहुंचने और उन्हें लुभाने और आपसे खरीदने के लिए उन्हें परिवर्तित करने का महत्वपूर्ण जरिया है |

उपभोक्ता सिद्धांत को समझने से पहले यह समझना जरूरी होगा कि, उपभोक्ता चीजों को किस प्रकार वरीयता देता है और साथ ही साथ यह भी पता लगाना होगा कि वह किस प्रकार उत्पादों का उपभोग करता है और उपभोग की गई वस्तु द्वारा उसे संतुष्टि मिलती है| यह सभी बातें ध्यान रखनी होंगी |

उपभोक्ता व्यवहार के प्रकार – उपभोक्ता व्यवहार के चार प्रकार होते हैं |

जटिल खरीद व्यवहार –  इस प्रकार के व्यवहार का सामना करते हैं | जब उपभोक्ता एक महंगा खरीदे गए उत्पाद को खरीदते हैं घर या कार खरीदने की कल्पना करें यह एक जटिल खरीद बहार है खरीद को कम करने वाला व्यवहार उपभोक्ता खरीदारी कर रहा है लेकिन ब्रांडो के बीच उलझा हुआ है कहने का मतलब है कि वह ब्रांडो के बीच अंतर नहीं कर पा रहा है और उसे यह चिंता है कि खरीदने के बाद उसे पछतावा तो नहीं होगा आदत के आधार पर व्यवहार खरीदना आदतन खरीद इस तथ्य  की विशेषता है कि उपभोक्ता की  उत्पाद या ब्रांड  श्रेणी में कम दिलचस्पी है मान ले कि आप बेकरी की दुकान पर जाते हैं और अपना पसंदीदा केक ऑर्डर करते हैं तो यह आदतन हुआ क्योंकि आप अपना पसंदीदा के खरीदते हैं जो आप हमेशा से ही खरीदते आ रहे हैं ना कि कोई ब्रांड वाला केक विभिन्न कैटेगरी का व्यवहार इस स्थिति में उपभोक्ता एक अलग प्रोडक्ट खरीदा है क्योंकि उसने इस प्रोडक्ट से पहले प्रोडक्ट खरीदा था वह अच्छा नहीं था क्योंकि वह विविधता चाहता है |

  • कक्षा : 12
  • विषय : अर्थशास्त्र ( Economics )
  • उपविषय : कंस्यूमर बेहेवियर ( उपभोगता का व्यवहार )
  • लेसन प्लान टाइप : मैक्रो / रियल टीचिंग / सिमुलेटेड टीचिंग / डिसकशन / स्कूल टीचिंग

Note: निचे दी गयी अर्थशास्त्र पाठ योजना केवल एक उदाहरण मात्र है| जिसमे कक्षा, नाम, कोर्स, दिनांक, अवधि इत्यादि में बदलाव करके आप अपनी सुविधा के अनुसार काम में ला सकते है|

Date : 

Duration Of The Period :

Pupils Teacher Name :

Pupil Teacher’s Roll Number :

Class :

Average Age Of the Pupils :

Subject :

Topic :

Upbhokta Ka Vyavhar Lesson Plan

विषय वस्तु विश्लेषण

  1. उपभोक्ता का व्यवहार
  2. उपयोगिता का अर्थ
  3. उपयोगिता को कैसे मापा जा सकता है
  4. उपयोगिता के प्रकार

सामान्य उद्देश्य

  1. विद्यार्थियों की मानसिक शक्ति का विकास करना |
  2. विद्यार्थियों को उपभोक्ता व्यवहार के बारे में बताना |
  3. विद्यार्थियों की सृजनात्मक शक्ति का विकास करना |
  4. विद्यार्थियों में तर्क शक्ति का विकास करना |

विशिष्ट उद्देश्य

ज्ञानात्मक उद्देश्य

  • छात्रों को उपभोक्ता अर्थ समझाना |
  • उपयोगिता के सिद्धांत के विषय में ज्ञान कराना |
  • उपयोगिता के प्रकार बताना |

बोध

  • छात्रों को उपभोक्ता व्यवहार के बारे में अध्ययन |
  • विद्यार्थियों को उपयोगिता के प्रकार के बारे में बताना |
  • छात्रों को उपभोक्ता के व्यवहार के बारे में बताना |

पूर्व ज्ञान – आपको यह तो पता ही होगा कि उपभोक्ता कौन होते हैं तथा वह किसी वस्तु की मांग क्यों करते हैं|

अनुदेशात्मक सामग्री

  • सामान्य सामग्री – चौक, झाड़न, संकेतक, श्यामपट्ट
  • विशिष्ट सामग्री – चार्ट, श्यामपट्ट, पाठ्य पुस्तक

पूर्व ज्ञान परीक्षण

छात्र अध्यापक क्रियाएं

छात्र क्रियाएं

क्या आप जानते हैं जो वस्तुएं और सेवाओं का उपभोग करता है उसे क्या कहते हैं ?

उपभोक्ता

क्या जानते हैं कि आपको या उपभोक्ता को किसी वस्तु को खरीदते समय किन बातों का ध्यान रखना चाहिए ?

वस्तुओं के उपयोग से उत्पन्न संतुष्टि

1.   वस्तुओं की कीमत

2.   उपभोक्ता की आय

उपविषय की घोषणा – आज हम आपको उपभोक्ता के व्यवहार तथा उपयोगिता विश्लेषण द्वारा उपभोक्ता का व्यवहार समझाएंगे |

प्रस्तुतीकरण

शिक्षण

छात्र अध्यापक क्रियाएं

छात्र क्रियाएं

श्यामपट्ट

उपभोक्ता

उपभोक्ता कौन है ?

छात्र ध्यानपूर्वक सुनेगे|

 

उपयोगिता

किसी वस्तु या सेवा में मानव आवश्यकता को संतुष्ट करने की शक्ति उपयोगिता है

 

 

उपयोगिता को मापना

किसी वस्तु या सेवा से मिलने वाली उपयोगिता को मुद्रा रुपए मापदंड में मापा जा सकता है इन्हें हम युटिल में मापते हैं|

 

उपयोगिता के प्रकार

उपयोगिता के दो प्रकार हैं –

  • सीमांत उपयोगिता
  • कुल उपयोगिता

छात्र ध्यानपूर्वक सुनेगे|

 

सीमांत उपयोगिता

 किसी वस्तु की एक अतिरिक्त इकाई से प्राप्त उपयोगिता को कहते हैं| सीमांत उपयोगिता कुल परिवर्तन दर को बताती हैं |

 

 

उदाहरण

मान लो उपभोक्ता को एक आम खाने से कुल उपयोगिता 10 इकाई मिलती है यहां आम की पहली इकाई की सीमांत उपयोगिता 10 है और दो आम खाने से कुल उपयोगिता 18 है|

तो छात्र बताएंगे कि दूसरे आम की सीमांत उपयोगिता क्या होगी|

18 -10 = 8

दूसरे आम की सीमांत उपयोगिता 8 होगी

 

कुल उपयोगिता

कुल उपयोगिता का अभिप्राय किसी वस्तु की इकाइयों से प्राप्त होने वाली सीमांत उपयोगिता के योग से है |

 

 

उदाहरण

एक उपभोक्ताओं का उपभोग करता है| यदि उपभोक्ता को सेब की पहली दूसरी और तीसरी और चौथी चार उपयोगिता मिलती है तो सिर्फ कुल उपयोगिता कितनी होगी|

 28 होगी |

 

सीमांत उपयोगिता या कुल उपयोगिता में संबंध

1.   जब सीमांत उपयोगिता धनात्मक होती है तो कुल उपयोगिता बढ़ती है

2.   जब सीमांत उपयोगिता जाती है| तो कुल उपयोगिता अधिकतम हो जाती है|

3.   जब सीमांत उपयोगिता ऋणात्मक  होती है तो घटने लगती है|

सीमांत उपयोगिता धनात्मक है | और कुल उपयोगिता बढ़ रही है| वस्तु की चौथी इकाई पर सीमांत उपयोगिता के शुरू होने पर कुल उपयोगिता अधिकतम होती है | इसे हम पूर्ण तृष्टि बिंदु कहते हैं वस्तु की चौथी इकाई तथा पांचवी और छठी इकाई पर सीमांत उपयोगिता ऋणात्मक है| और कुल उपयोगिता क्रमशः घट रही है|

 

 

मूल्यांकन –

  1. प्रश्न – उपभोक्ता किसे कहते हैं ?
  2. प्रश्न – यदि पहली इकाई से 5, दूसरे से 3 तीसरी से 2 की उपयोगिता मिलती है तो कुल उपयोगिता कितनी होगी ?
  3. प्रश्न – सीमांत उपयोगिता किसे कहते हैं ?

गृहकार्य –

  1. उपभोक्ता किसे कहते हैं ?
  2. यदि पहली इकाई से 5 दूसरे से 3 तीसरी से 2  की उपयोगिता मिलती है तो कुल उपयोगिता कितनी होगी |
  3. सीमांत उपयोगिता किसे कहते हैं|

Further Reference:
LearningClassesOnline अर्थशास्त्र पाठ योजना

Lesson Plan On Consumer Behaviour In Hindi

Upbhokta Ka Vyavhar Lesson Plan

Upbhokta Ka Vyavhar Lesson Plan In Hindi

Upbhokta Ka Vyavhar Lesson Plan PDF

Economics Lesson Plan in Hindi on Consumer Behaviour (Upbhokta)

Economics Lesson Plan in Hindi Class 12 for B.Ed

Economics का Class 9,10,11,12 का  Lesson Plan On Consumer Behaviour In Hindi

Upbhokta Vyavhar Lesson Plan In Hindi

इकोनॉमिक्स लेसन प्लान 


  • कक्षा : 12
  • विषय : अर्थशास्त्र ( Economics )
  • उपविषय : कंस्यूमर बेहेवियर ( उपभोगता का व्यवहार )
  • लेसन प्लान टाइप : मैक्रो / रियल टीचिंग / सिमुलेटेड टीचिंग / डिसकशन / स्कूल टीचिंग 


Note: निचे दी गयी  अर्थशास्त्र पाठ योजना केवल एक उदाहरण मात्र है| जिसमे कक्षा, नाम, कोर्स, दिनांक, अवधि इत्यादि में बदलाव करके आप अपनी सुविधा के अनुसार काम में ला सकते है|

इकोनॉमिक्स लेसन प्लान on Consumer Behaviour in Hindi ( उपभोगता का व्यवहार पाठ योजना ) free download pdf

consumer behaviour lesson plan in hindi




upbhokta ka vyavyar lesson plan in hindi for class 12

upbhokta par economics ki path yojna





Further Reference:
LearningClassesOnline अर्थशास्त्र पाठ योजना

Similar Posts


Related:


Post a Comment

Please Share your views and suggestions in the comment box

Previous Post Next Post