[BEST] Lesson Plan in Hindi | हिंदी पाठ योजना


Hindi Lesson in Hindi Plan ( हिंदी लेसन प्लान )

यह पाठ योजना (Lesson Plan in Hindi) न केवल कक्षा (Class) 5 , कक्षा 6 , कक्षा 7, कक्षा 8 के शिक्षकों (teachers ) के लिए सहायक है | बल्कि सभी classes (कक्षा )1st, 2nd , 3rd, 4th, 9th, 10th, 11th, 12th के अध्यापको एवं अध्यापिकाओं को इस Hindi Lesson Plan से बहुत मदद मिलेगी | और साथ ही साथ बी.एड, De.l.ed, btc, bstc, M.Ed और अन्य किसी टीचर ट्रेनिंग कोर्स में पढ़ रहे छात्र इसे देखकर अपनी हिंदी लेसन प्लान की पूरी डायरी तैयार कर सकते है| 

Hindi Paath yojna,  b.ed lesson plan in hindi, Lesson Plan for Hindi, Deled Hindi Lesson Plan, BTC Hindi Lesson plan,

यह हमारी पाठ योजना हिंदी  झांसी की रानी कविता पर बनाई गयी है| अगर आप किसी विषय पर हिंदी का लेसन प्लान ढंग रहे है तो निचे जो बटन दिया गया है उसे दबाये| यह आपको हिंदी के हर विषय पर बहुत सारे लेसन प्लान मिल जायेंगे| 




Note: 
  • निचे दी गयी पाठ योजना केवल एक उदाहरण मात्र है| जिसमे कक्षा, नाम, कोर्स, दिनांक, अवधि इत्यादि में बदलाव करके आप अपनी सुविधा के अनुसार काम में ला सकते है|
  • हरे रंग में जो Explanations दी गयी है| वो आपको अपनी लेसन प्लान डायरी में नहीं लिखनी| यह केवल आपको समझने के लिए दी गयी है |


हिंदी पाठ योजना बनाने के चरण ( Steps and Format of making Lesson Plan In Hindi)

  • कक्षा (Class) - 5 , 6, 7 , 8 , 9,10 
  • विषय (subject) - हिंदी (पद )
  • प्रकरण (Topic) - झांसी की रानी ( कविता )

विषय वस्तु विश्लेषण:
  • झांसी की रानी कविता की व्याख्या
  • झांसी की रानी कविता का भावार्थ
  • शब्द व्याख्या
विषय वस्तु विश्लेषण क्या होता है? 

विषय वस्तु विश्लेषण में हिंदी अध्यापक / अध्यापिका अपनी हिंदी पाठ योजना में जो भी अपने विद्यार्थियों को पढ़ाएंगे उसे संक्षिप्त में लिख लेते है|

सामान्य उद्देश्य:

आप सोच रहे होंगे कि सामान्य उद्देश्य क्या होते हैं तथा उन्हें Hindi Lesson Plan में कैसे लिखा जाता है? तो इसका उत्तर है कि सामान्य उद्देश्य हिंदी पाठ योजना (लेसन प्लान) में वह उदेश्य होते हैं जो शिक्षक को हिंदी का पाठ पढ़ाते समय पहले से ही सोचने पड़ते हैं कि पाठ पूरा होने तक छात्र क्या-क्या सीख पाएंगे।

हिंदी लेसन प्लान झांसी की रानी के सामान्य उद्देश्य है। 
  1. छात्रों को झांसी की रानी कविता के प्रति रुचि उत्पन्न कराना।
  2. छात्रों में लय , ताल एवं भावयानुसार काव्य पाठ की क्षमता उत्पन्न कराना|
  3. छात्रों को कविता के संदेश की सराहना करने के योग्य बनाना।
अनुदेशात्मक उद्देश्य:
  1. विद्यार्थी कवि की भाषा शैली को विशेषता सहित बता सकेंगे।
  2. विद्यार्थी विषय वस्तु का प्रत्यास्मरण कर सकेंगे।
  3. आरोह - अवरोह के साथ कविता पढ़ सकेंगे।
  4. विद्यार्थी कविता सुनकर अर्थ ग्रहण कर सकेंगे।
  5. छात्र कविता के अर्थ अपने शब्दों में बता सकेंगे।
  6. छात्र कविता का सस्वर पाठ कर सकेंगे।
सामान्य शिक्षण सहायक सामग्री:

चाक , चौक बोर्ड,  संकेतक

यह वह शिक्षण सहायक सामग्री होती है जो हिंदी के अध्यापक / अध्यापिका को कक्षा में हिंदी का पाठ पढ़ाते समय जरूरत पढ़ती है| 

अनुदेशात्मक शिक्षण सहायक सामग्री:

रानी लक्ष्मीबाई का चित्र

Jhasi ki rani laxmi bai par hindi ki paath yojna

जो पाठ शिक्षक पढ़ा रहा होता है उसी विषय से संबंधित सामग्री अनुदेशात्मक शिक्षण सहायक सामग्री होती है। हमारे इस हिंदी लेसन प्लान में विषय झांसी की रानी को लिया गया है इसीलिए इसमें लक्ष्मीबाई के चित्र को अनुदेशात्मक शिक्षण सहायक सामग्री के रूप में लिया गया है। ताकि हिंदी के शिक्षक की टीचिंग प्रभावशाली  हो सके| 
पूर्ण ज्ञान परिकल्पना:

कक्षा में जाने से पहले अध्यापक / अध्यापिका यह मान कर चलते हैं कि विद्यार्थियों को रानी लक्ष्मी बाई के बारे में सामान्य ज्ञान होगा।

पूर्व ज्ञान परिकल्पना वह परिकल्पना है जिसमें शिक्षक यह मानकर चलता है कि जो विषय वह पढ़ा रहा है छात्रों को उस विषय का थोड़ा बहुत ज्ञान होगा।

पूर्व ज्ञान परीक्षण:

पूर्व ज्ञान परीक्षण वह परीक्षण है जिसमें शिक्षक हिंदी का पाठ शुरू करने से पहले विद्यार्थियों से कुछ सवाल पूछता है उसी विषय से संबंधित है जो विषय उसे कक्षा में पढ़ाना है।

कुछ महत्वपुर्ण बाते :
हमारे इस Hindi Lesson Plan में बार बार कुछ शब्द नज़र आएंगे उनके बारे में पहले जान लेते है|
  • अध्यापक / अध्यापिका क्रियाएं - अध्यापक/ अध्यापिका क्रिया मैं अध्यापक जो भी कक्षा में क्रिया करता है उसे लिखा जाता है।
  • छात्र क्रियाएं : छात्र क्रियाएं वह क्रियाएं हैं जो क्रियाएं छात्र अध्यापक द्वारा पूछे गए प्रश्नों के उत्तर में करते हैं।


विद्यार्थियों के पूर्व ज्ञान को जांचने के लिए अध्यापक/अध्यापिका निम्न प्रश्न पूछ सकते हैं।
अध्यापक/अध्यापिका क्रियाछात्र / छात्रा क्रिया 
1857 की क्रांति में सबसे वीर महिला कौन थी ?

(शिक्षक यह प्रश्न अपने विद्यार्थियों से पूछेगा।)         
1857 की क्रांति में सबसे वीर महिला थी रानी लक्ष्मी बाई|

(अध्यापक द्वारा पूछे गए प्रश्न का उत्तर छात्र इस प्रकार देंगे। )
अगला प्रश्न हिंदी का अध्यापक  पूछ सकता है कि लक्ष्मी बाई कहां की रानी थी?छात्र उत्तर देंगे की लक्ष्मी बाई झांसी की रानी थी।
झांसी की रानी का पूरा नाम क्या है?झांसी की रानी का पूरा नाम रानी लक्ष्मीबाई है।
रानी लक्ष्मीबाई की वीरता की कहानियां हमने किससे सुनी है?समस्यात्मक प्रश्न

(समस्यात्मक प्रश्न वह प्रश्न है जब छात्र पूछे गए प्रश्न का उत्तर नहीं दे पाते)


उप विषय की घोषणा

जब विद्यार्थी संतोषजनक उत्तर नहीं दे पाते हैं तब अध्यापक / अध्यापिका अपने उप विषय की घोषणा करेंगे कि आज हम झांसी की रानी कविता के बारे में पड़ेंगे।

प्रस्तुतीकरण

व्याख्यान विधि एवं रानी लक्ष्मी बाई के चार्ट के माध्यम से अध्यापक / अध्यापिका कक्षा में अपना हिंदी का पाठ प्रस्तुत करेंगे।

शिक्षण बिंदु अध्यापक / अध्यापिका क्रियाएंछात्र क्रियाएंचौक बोर्ड कार्य 
कवियत्री परिचयअध्यापक विद्यार्थियों को इस कविता की कवियत्री, सुभद्रा कुमारी चौहान का परिचय देंगे तथा आवश्यक बिंदुओं को श्यामपट्ट (ब्लैक बोर्ड) पर लिखेंगे।

अध्यापक/अध्यापिका विद्यार्थियों को बताएंगे की यह कविता सुप्रसिद्ध कवियत्री सुभद्रा कुमारी चौहान के द्वारा लिखी गई है।इस कविता में कवियित्री ने रानी लक्ष्मीबाई के शौर्य की प्रशंसा की है तथा उन्होंने 1857 के स्वाधीनता संग्राम में लक्ष्मीबाई के योगदान का वर्णन किया है।
सभी विद्यार्थी ध्यानपूर्वक देखेंगे तथा लिखेंगे।इस कविता में कवियित्री ने रानी लक्ष्मीबाई के शौर्य की प्रशंसा की है।


how to make lesson plan in hindi on jhasi ki rani laxmibai


(यह लाइनें अध्यापक/ अध्यापिका पाठ पढ़ाने के दौरान श्यामपट्ट पर लिखेंगे।)

कविता का परिचयशिक्षक विद्यार्थियों को बताएंगे कि इस कविता में 1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के दौर की बात कही गई है इस संग्राम में झांसी की रानी लक्ष्मीबाई ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी |

कविता में उस समय के माहौल के बारे में बताया गया है जब अंग्रेज हर तरह की जोर जबरदस्ती करके भारतीय राजाओं के राज्यों को छीनना चाहते थे|  उन पर हर तरह का अत्याचार करके वह उनके राज्य को छीनना चाहते थे।
सभी विद्यार्थी ध्यानपूर्वक सुनेंगे| संग्राम में रानी लक्ष्मीबाई ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी| अंग्रेज हर तरह की जोर जबरदस्ती करके राज्य प्राप्त करना चाहते थे।
आदर्श वाचनअब शिक्षक / शिक्षिका विद्यार्थियों को किताबे खोलने के लिए कहेंगे।

अध्यापक / अध्यापिका उचित हाव-भाव के साथ संपूर्ण कविता का सस्वर पठन करेंगे।
सभी विद्यार्थी अपनी पाठ्य पुस्तक खोलेंगे।
अनुकरण वाचनअब शिक्षक/ शिक्षिका कक्षा के दो-तीन विद्यार्थियों से अलग अलग पद्यांशों का वाचन करने के लिए निर्देश देंगे और उनके वाचन को ध्यानपूर्वक सुनेंगे तथा उनके पाठ के पठन दोषों को दूर करेंगे।सभी विद्यार्थी शिक्षक के आदेश अनुसार उचित स्वर एवं लय के साथ वाचन करेंगे।
शब्द व्याख्याशिक्षक कविता में आए कठिन शब्दों का अर्थ बताएंगे तथा उन्हें श्यामपट्ट पर लिखेंगे।विद्यार्थी शब्दार्थो को सुनेंगे तथा अपनी उत्तर पुस्तिका में लिखेंगे।शब्द -  अर्थ
मर्दानी - ना मिटने वाली
फिरंगी-अंग्रेज
कृपाण- तलवार
छबीली- चंचल
वैभव - धन-संपत्ति
वार-हमला
भाव विश्लेषण एवं सुंदरानुभूति शिक्षक प्रश्नों और कथन की सहायता से कविता के भाव को स्पष्ट करेंगे |

शिक्षक कविता का पठन करेंगे तथा प्रश्न पूछेंगे की लक्ष्मीबाई की वीरता की कहानी हमने किससे सुनी है?
विद्यार्थी प्रश्नों का उत्तर देंगे और कहेंगे की लक्ष्मीबाई की वीरता की कहानी हमने हरबोलों से सुनी हैं।
लक्ष्मी बाई कानपुर के नाना साहिब की मुंह बोली बहन थी। जिसका बचपन का नाम छबीली था|

लक्ष्मी बाई अपने पिता की अकेली संतान थी वह बचपन से ही नाना के साथ पढ़ती थी और उन्हीं के साथ खेलती थी उसे हथियार प्रिय थे|  इसलिए ढाल कृपाण कटार को वह अपनी सहेली मानती थी|

उसे बचपन से ही शिवाजी की वीरता की कहानियां याद थी|  हमने बुंदेले हरबोलों के मुंह से सुना है कि रानी लक्ष्मीबाई वीर पुरुषों की  भांति बहादुरी से लड़ी थी| 
विद्यार्थी ध्यानपूर्वक सुनेंगे| रानी लक्ष्मीबाई की वीरता की कहानी हमने हर बोलो से सुनी थी।



सामान्यीकरण

अध्यापक / अध्यापिका पाठ खत्म होने के बाद यह मान कर चलते हैं कि विद्यार्थियों को झांसी की रानी कविता समझ में आ गई होगी।

पुनरावृति

अब पुनरावृति के लिए शिक्षक विद्यार्थियों से कुछ प्रश्न पूछेंगे। जैसे की 
  • झांसी की रानी कविता किस के द्वारा लिखित है?
  • सुभद्रा कुमारी चौहान लक्ष्मीबाई को मरदानी क्यों कहती है?
  • गुमी हुई आज़ादी की कीमत सबने पहचानी थी इस पंक्ति का भाव स्पष्ट कीजिए।
गृह कार्य

अंत में हिंदी का अध्यापक/ अध्यापिका विद्यार्थियों को गृहकार्य देंगे।
  1. झांसी की रानी के जीवन से हमें क्या प्रेरणा मिलती है?
  2. झांसी की रानी के जीवन की कहानी अपने शब्दों में लिखिए और यह भी बताइए कि उसका बचपन आपके बचपन से कैसे अलग था।
--------------------

नोट - B.Ed (बी एड ) , BTC, DE.L.ED और अन्य टीचर ट्रेनिंग कोर्सेज के students भी इसी पाठ योजना से अपना हिंदी का लेसन प्लान बना सकते है | बस थोड़ा सा फॉर्मेट चेंज होगा| DE D, B ED और BTC के छात्रों को इस हिंदी पाठ योजना को टेबल की फॉर्म में बनाना है | जिसको चार भागो में बाटना है | जिसका format कुछ इस प्रकार होगा |

B.Ed/ DELED/BTC Lesson Plan Format in Hindi

शिक्षण बिंदु छात्र अध्यापक/अध्यापिका क्रिया  छात्र क्रिया चौक बोर्ड कार्य

निचे हमने इस झांसी की रानी लेसन प्लान के कुछ images दी है| इसे भी आप एक बार देख ले | 


--------------------
समाप्त
--------------------
Hello Friends,

This Lesson Plan in Hindi for class 5th, 6th, 7th, 8th, and 9th is not only for new teachers of CBSE, NCERT, Nios, and state board schools but also for BEd (B.Ed), DED(DELED), BTC and NIOS student teachers of year and semester 1st, 2nd, 3rd, 4th, 5th, and 6th. Pupil teachers can make micro, mega and real teaching Hindi Lesson Plans for their exams, internships, and practical demo teaching. This is the sample and model Hindi Lesson Plan for all teachers of Hindi. This Hindi path Yojana is on Jhansi Ki Rani Kavita by Subhadra Kumari Chauhan with the help of which all teachers of Hindi subject can make Hindi Vyakran व्याकरण, kavya, padh, kavitaye, Sahitya, lesson plans easily.

Is detailed Hindi Lesson Plan me Hindi ka Lesson Plan Banane ka Pura format our steps diye Gaye hai. Jiski shayata se aap Hindi ke kisi bhi vishye par Lesson Plan bana sakte hai. Naye Shikshak akshar is duvidha me rehte hai ki apni class ka liye Hindi Lesson Plan kaise taiyar kare. They often think about how to make Lesson Plan in Hindi? But the solution is right here. A perfect and detailed lesson plan in Hindi is given below which can fulfill all the requirements of Hindi Teachers.

न केवल नए शिक्षक बल्कि experienced टीचर्स भी अपनी टीचिंग स्किल्स बेहतर करने के लिए इस पाठ योजना हिंदी की सहायता ले सकते है|

Related Posts

1 Comments

Please Share your views and suggestions in the comment box

Unknown said…
Computer
Previous Post Next Post